“बहुत सारी बीमारीयों से चंगार्इ पाने के बाद, मै मुआन मीठे पानी की बड़ी प्रशंसक बन गर्इ”

बहन माया देवी, दिल्ली मानमिन चर्च, भारत।

मर्इ 2016 में, मेरे दांहिने अंगूठे में खुजली होने लगी जैसे मानो कीसी मच्छर ने काटा हो। जब मैने उसे लगातार खरोंचा तो उस स्थान पर मवाद भर गया और खून बहने लगा। मुझे काफि ज्यादा दर्द सहना पड़ा और उस समय भारत में गर्मी बहुत ज्यादा थी लगभग 50 डीग्री सेल्सियस के करीब तापमान था। इसके अलावा बार बार बिजली कट जाने के कारण पखां या AC चलाना असम्भव था। इसके कारण त्वाचा रोग और भी अधिक फैल रहा था।

यहां तक कि मेरा कंधा सुज गया था जिसके कारण दर्द बहुत ज्यादा होता था। मै मुश्किल से अपना दाहिंना हाथ हिला पाती थी। मैने दवाऐं ली और पीड़ाहर गोलियों ली परन्तु दशा बदतर और बदतर होती गर्इ।

मैने परमेश्वर से चंगार्इ पाने का निर्णय लिया और दवाऐं लेना बंद कर दी। मैने उस प्रभावित हिस्से में मुआन मीठे पानी को लगाया। मैने मोबार्इल फोन में रिकार्डेड सिनियर पास्टर डॉ. जेरॉक ली, की प्रार्थनाओं को ग्रहण किया। तब, एक अदभुत चीज़ हुर्इ। वो जख्म जो असाध्य लग रहा था, तेज़ी से ठीक हो गया और दर्द और सुजावट भी दूर हो गर्इ और जून के शुरूआत में वह पूरी तरह से चंगा हो गया।

मेरे पति, सुनिल कुमार, ने अपनी पेट की अव्यवस्था से चंगार्इ प्राप्त की और उन्हे दिखने वाले बुरे स्वप्न, जिससे उन्हे बहुत कष्ट होता था, वह भी खत्म हो गऐ। जब उन्होने प्रभु के दिन को पवित्र माना, उन्होने महान आर्थिक आशीष प्राप्त की। परमेश्वर के लिए धन्यवादी हृदय के साथ हम आनन्द से चर्च में सवयंसेवा देते है। मुआन मीठा पानी मेरे परिवार की दवा बन गया है। अब मेरा पूरा परिवार स्वस्थ्य है यहां तक कि बिना कीसी ज़ुकाम और बुखार के।

मै सारा धन्यवाद और माहीमा प्रेमी परमेश्वर को देती हूँ और, मै सिनियर पास्टर को धन्यवाद देती हूँ जिन्होने हमारे लिये प्रार्थना की।

 

Be the first to comment

Leave a Reply