जी.सी.एन (GCN) द्वारा समय और स्थान की दूरी की सीमा को पार करने का कार्य  प्रकट हुआ।

आरोकाम (चिन्नर्इ मनमिन चर्च, इन्डिया)

मैं चिन्नर्इ के विलिवाक्कम क्षेत्र में प्लास्टिक की दुकान चलाता हूं। तीन महिने पहले जब भी मैं पेशाब करने जाता तो एक तेज़ दर्द मेरे पेट में होने लगता। मैंने स्थानीय अस्पताल में मूत्र-जांच करवार्इ, किन्तु डाक्टर्स दर्द का कोर्इ भी कारण न बता व जान पाए। बिना कोर्इ ठोस समाधान पाए, मैं लगातार दर्द की तेज़ पीड़ा से पीड़ित हो रहा था और मैं निराश हो चुका था।

मैं और मेरी पत्नी प्रार्थना में परमेश्वर से जुड़ गए। 17 अगस्त रविवार को मैं जी.सी.एन की सुबह की सभा में भाग ले रहा था। और उसी वक्त मेरे पेट में तीखा दर्द शुरू हो गया। उस दिन जी.सी.एन पर सन्देश में वरिष्ठ पास्टर ने कहा, ‘‘विश्वासियों विश्वास के साथ कर्मठता, व परिश्रम से पूरे सप्ताह छ: दिन तक काम करो लेकिन प्रभु के दिन अपनी दुकानें और अपने कामों को बन्द करो और इसे पवित्र रखो’’। ये ही वह बात थी, जो मुझे लग गर्इ और उसी समय मैने वैसा ही किया जैसा मैने सन्देश सुना था। आगे सन्देश में जब मैने वरिष्ठ पास्टर की बीमारों के लिए कि गर्इ प्रार्थना को प्राप्त किया तो मेरे पेट का दर्द गायब हो गया और जल्दी ही मुझे शान्ति मिल गर्इ।

 

जब सभा के बाद वापिस मैं घर आया और पेशाब करने लगा तो एक पत्थर लगभग .6 से.मी (.23 इंच) मेरे शरीर से बाहर आ निकला। मुझे पता लग गया कि मेरे दर्द का कारण ये पत्थर ही था और आज मैं पहले की ही भांति स्वस्थ्य हूं।

 

Be the first to comment

Leave a Reply